0

Indian Politics : कौन हैं शहजाद पूनावाला जो बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता बने हैं?

Shahzad Poonawalla : “शहजाद पूनावाला” यह नाम अकसर अपने बेबाक अंदाज़ के लिए चर्चाओं में रहता है। पिछले कुछ सालों में शहजाद पूनावाला हिंदूत्व और राष्टवाद का Poster Boy बन कर उभरे हैं। अभी हाल ही में शहजाद को भाजपा का राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया गया है। मगर क्या आपको मालूम है कि शहजाद एक वक़्त कांग्रेस में थे? क्या आपको मालूम है शहजाद का राहुल गांधी से क्या संबंध है?

आखिर कौन हैं शहजाद?

शहजाद पूनावाला

भाजपा के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के रिश्तेदार हैं। प्रियंका वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा के बहनोई तहसीन पूनावाला शहजाद के बड़े भाई हैं। शहजाद के भाई तहसीन की शादी रॉबर्ट की बहन मोनिका वाड्रा से हुई है।

गांधी परिवार के साथ संबंध के अलावा शहजाद पूर्व में मिनिस्ट्री ऑफ पार्लियामेंट अफेयर्स में काम कर चुके हैं। वह पेशे से एक वकील और Human Rights Activist हैं।

भाजपा ने शहजाद पूनावाला को बड़ी जिम्मेदारी सौंपी

दिल्ली में नगर निगम चुनाव से पहले भाजपा ने शहजाद पूनावाला (Shehzad Poonawala) को बड़ी जिम्मेदारी सौंपी। शहजाद पूनावाला को दिल्ली भाजपा में आइटी और सोशल मीडिया विभाग (Delhi BJP IT and Social Media department in-charge) का प्रभारी बनाया गया।

कांग्रेस से की थी बगावत

साल 2017 का था। गुजरात विधानसभा चुनाव के नजदीक थे। जब शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस के खिलाफ जंग छेड़ दी थी और कांग्रेस का दामन हमेशा हमेशा के लिए छोड़ दिया था। एक लंबे अरसे तक ‘कट्टर कांग्रेस’ रहे शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस से मुंह मोड़ने के बाद ‘दक्षिणपंथ’ विचारधारा को अपना लिया। तब से अब तक वो समाजिक व राजनीतिक मुद्दों पर मुखर होकर अपने विचार रखते आये हैं। शहजाद का कहना है कि उनका धर्म इस्लाम है, संस्कृति हिन्दू है और विचारधारा भारतीय है।

शहजाद पूनावाला

साल 2017 का था। गुजरात विधानसभा चुनाव के नजदीक थे। जब शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस के खिलाफ जंग छेड़ दी थी और कांग्रेस का दामन हमेशा हमेशा के लिए छोड़ दिया था। एक लंबे अरसे तक ‘कट्टर कांग्रेस’ रहे शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस से मुंह मोड़ने के बाद ‘दक्षिणपंथ’ विचारधारा को अपना लिया। तब से अब तक वो समाजिक व राजनीतिक मुद्दों पर मुखर होकर अपने विचार रखते आये हैं। शहजाद का कहना है कि उनका धर्म इस्लाम है, संस्कृति हिन्दू है और विचारधारा भारतीय है।

बगावत के बाद भाई ने तोड़ा था रिश्ता

शहजाद पूनावाला

शहजाद ने जब कांग्रेस से सरेआम अपनी नाराजगी जाहिर की थी तब इस बात का असर उनके और उनके बड़े भाई के रिश्ते पर पड़ा था। दोनों के बीच तल्खियां आ गयी थी। उनके भाई तहसीन ने ट्वीट किया है, “मैं यह जानकर आश्चर्य में हूं कि शहजाद ने यह सब तब किया जब कांग्रेस गुजरात में जीतने जा रही थी। मैं उनसे राजनीतिक रूप से सारे संबंध खत्म करने की घोषणा करता हूं।”

शहजादे बने भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता

शहजादे बने भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता

पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों को देखते हुए भाजपा ने रविवार को राष्ट्रीय टीम में कई नई नियुक्तियां की हैं। शहजाद पूनावाला को राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया गया है। उनके अलावा महाराष्ट्र के वरिष्ठ नेता और सचिव विनोद तावड़े को राष्ट्रीय महासचिव के रूप में पदोन्नत किया गया है। वहीं, ऋतुराज सिन्हा और आशा लाकड़ा को राष्ट्रीय सचिव व भारती घोष को राष्ट्रीय प्रवक्ता नियुक्त किया है।

शहजाद ने Tweet कर जताई खुशी

भारतीय जनता पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता बनने पर शहजाद ने खुशी जताई। उन्होंने Tweet किया – “साधारण, Middle Class घर परिवार में जन्मे मुझ जैसे बहुत ही आम, ग़ैर परिवारवादी / non dynastic युवक को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी का एक कार्यकर्ता एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता बनने का सौभाग्य, प्रभु श्री राम के आशीर्वाद और मेरी माँ की दुआ से आज प्राप्त हुआ है। मैं इसके लिए विशेष रूप से आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी, श्री जेपी नड्डा जी, श्री अमित शाह जी, श्री राजनाथ सिंह जी, श्री बीएल संतोष जी, श्री अनिल बालूनी जी, श्री संजय मयूख जी और पूरे संगठन का आभारी हूँ जिन्होंने हमेशा प्रतिभा को परिवार के ऊपर रखा है। अभी तक मीडिया और कई news चैनल में रहकर काम करने का अवसर भी मिला जहाँ मेरे कई दोस्त बने। अभी तक जो सहयोग ख़ास कर मेरे गेस्ट टीम के साथियों से, beat reporters, camera persons, editors और anchors से मिला उसके लिए मैं हमेशा आभारी रहूँगा बस आगे भी सहयोग और आशीर्वाद बनाए रखना। आज श्री नरेंद्र मोदी के सक्षम और प्रभावशाली नेतृत्व से भारत में सबका साथ लेकर सबका विकास, ईमानदारी से करते हुए, देश नयी ऊँचाइयों को छूँ रहा है । आशा है माँ भारती के प्रत्येक संतान तक विकास और सामाजिक न्याय की इस गंगा के पवित्र जल को पहुँचाने में आप सभी का सहयोग मिलेगा।”

शहज़ाद यानी राष्ट्रवाद

शहजाद प्रखर राष्ट्रवादी हैं। वो भारत को विश्वगुरु बनाने का सपना देखते हैं। शहजाद के विरोधी उनके इस रवैये से चिढ़ते हैं। शहजाद का कहना है कि वो श्रीराम के अनुयायी हैं। उन्हें तुष्टिकरण की राजनीति से सख्त ऐतराज़ है। कांग्रेसी की नीतियों की आलोचना करने में वो कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। टीवी डिबेट हे शहजाद का अंदाज़ कभी व्यंग्यात्मक रहता है तो कभी गंभीर। शहजाद ने सोशल मीडिया पर एक सफल मुहीम चलाई थी। इस मुहीम में उन्होंने सत्य, सनातन, स्वदेशी को सर्वप्रथम रखने की बात कही थी। भाजपा का उन्हें राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाना एक सोची समझी रणनीति है। अभी कई राज्यों में चुनाव आने वाले हैं। शहजाद भाजपा का पक्ष लेते नज़र आयेगें। उनकी बेबाकी विपक्षियों को परेशान करने वाली है।